तीन माह की फीस माफ करे सरकार

कोरोना वायरस के कारण इस समय देश भर में लाॅकडाउन किया गया है जिसके कारण खासतौर पर निम्न आय वर्ग के लोगों की रोजी रोटी पर संकट आ गया है। सरकार को इन्हें निःशुल्क राशन उपलब्ध कराने के साथ इनके बच्चों की तीन माह की फीस माफ करनी चाहिए। ताकि संकट की इस घड़ी में इनकी कुछ मदद हो सके। इस मुद्दे को कांग्रेस ने भी उठाया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अनुसूचित जाति जनजाति विभाग के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व विधायक राजकुमार ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजा है। जिसमें उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन के एक माह से अधिक समय होने के बावजूद भी वह अपनी मजदूरी व छोटी मोटी व्यवस्था भी नहीं कर पा रहा है। इसी प्रकार से छोटी दुकान में काम करने वाला व्यक्ति हो या कोई फैक्ट्री में काम करने वाला व्यक्ति, सभी परेशान है। विशेष रूप से मध्यम वर्ग के लोग अपने सम्मान के कारण थाने व चैकियों में लाइन में नही लगते है। उन सभी लोगों को तीन माह फीस माफ की जाए। इसी के साथ उन सभी परिवार को 10 केजी चावल, 10 केजी गेहूं दी जाए। जिससे वह अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें। वहीं दूसरी सरकार को इस मुश्किल घड़ी में काॅमर्शियल वाहन चालकों और हेल्परों के बारे में भी सोचना चाहिए। क्योंकि लाॅकडाउन होने के साथ ही सभी वाहनों का पहिया भी जाम हो गया था। निजी तौर पर गाड़ी चलाने वाले लोगों के पास रोजी रोटी का संकट है।
सुभाष जोशी, नई टिहरी
साभार जागरण।

Comments (0)

Please Login to post a comment
SiteLock
https://shikshabhartinetwork.com