डीएलएड की मान्यता को लेकर ‘एनसीटीई’ का अप्रशिक्षित शिक्षकों को तगड़ा झटका

नई दिल्ली।

एनआईओएस से डीएलएड कोर्स कर चुके और वर्तमान में कर रहें अप्रशिक्षित शिक्षकों को राष्ट्रीय शिक्षक परिषद (एनसीटीई) के हाल ही में दिए गए बयान से शिक्षकों में भय का माहोल पैदा हो गया है। जबकि, दो वर्ष पहले स्वयं राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने शिक्षकों को अप्रशिक्षित श्रेणी से बहार निकालने के लिए डीएलएड कोर्स का आयोजन किया था। और इसके लिए बकायदा संसद में कानून भी पास करवाया गया था। लेकिन अब एनसीटीई अपने आदेश से पलट रहा है। एनसीटीई ने डीएलएड कोर्स की मान्यता को दो साल बाद अवैध मानने की बात कहीं है। एनसीटीई के इस फैसले से लाखों शिक्षकों का भविष्य अधर में नजर आ रहा है। वहीं दूसरी ओर एनसीटीई के बयान से शिक्षकों में खलबली मच गई है।

Advertisements