देश में 75 नए मेडिकल कॉलेज खुलेंगेः केंद्र

नई दिल्ली।

देश में स्वास्थ्य सेवा को बेहतर करने की दिशा में प्रयासरत केंद्र सरकार ने एक और बड़ा फैसला लिया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ऐसे जिलों में 75 नए मेडिकल कॉलेज खोलने को मंजूरी दी है, जहां ऐसी सुविधाएं नहीं हैं। इस कदम से आधारभूत चिकित्सा सेवाएं आमजनों तक पहुंचाने में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक इस फैसले पर मुहर लगी।

मंत्रिमंडल के सक्षम रखे गए प्रस्ताव के मुताबिक, सभी मेडिकल कॉलेज ऐसे स्थानों पर खोले जाएंगे जहां पहले से कोई मेडिकल कॉलेज नहीं है और जो जिले विकास में पिछड़ गए हैं। इन मेडिकल कॉलेजों को मौजूदा जिला या रेफरल अस्पतालों में स्थापित किया जाएगा। इस प्रस्ताव को अमल में लाने में 24,375 करोड़ रुपये की लागत आएगी और इन कॉलेजों की स्थापना 2021-22 तक हो जाएगी। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने इस मामले पर विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि नए मेडिकल कॉलेजों की योजना से देश में एमबीबीएस की कम से कम 15,700 नई सीटें सृजित होंगी। पिछले पांच वर्षो में पोस्ट ग्रेजुएट और एमबीबीएस की 45 हजार सीटें जोड़ी गईं और इस अवधि में 82 मेडिकल कॉलेजों को मंजूरी दी गई थी। सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने कहा कि नए मेडिकल कॉलेजों के बनने से लाखों गरीबों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वालों को लाभ होगा। इससे ग्रामीण इलाकों में डॉक्टरों की उपलब्धता बढ़ेगी।

 

Advertisements