UPSC Topper: हॉकर का बेटा बना अफसर, बिहार के अनिल बसाक ने तीसरे अटेम्‍प्‍ट में पाई 45वीं रैंक

UPSC Topper: हॉकर का बेटा बना अफसर, बिहार के अनिल बसाक ने तीसरे अटेम्‍प्‍ट में पाई 45वीं रैंक

UPSC Topper Anil Basak: बिहार के किशनगंज के फेरीवाले के बेटे अनिल बसाक ने UPSC सविल सर्विस परीक्षा में 45वीं रैंक हासिल की है. वर्ष 2014 में अनिल ने पहली बार प्रतिष्ठित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) दिल्ली की प्रवेश परीक्षा पास कर अपने परिवार और रिश्तेदारों का मान बढ़ाया था. लेकिन यह उनकी सफलता की छलांग का केवल पहला चरण था. उस समय बिहार से दिल्ली आए बसाक को इस बात का अंदाजा नहीं था कि कुछ साल बाद वह सिविल सेवा परीक्षा को पास करने वाले शीर्ष 50 में शामिल होंगे.

अनिल ने आजतक से कहा, "मुझे 2014 में IIT दिल्ली में चुना गया था. जब मैं अपने सिविल इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम के तीसरे वर्ष में पहुंचा, तो मैंने सिविल सर्विस एग्‍जाम की तैयारी शुरू कर दी. यह अगस्त 2016 का समय था". अनिल अपने पहले प्रयास में वर्ष 2018 में यूपीएससी की प्रीलिम्‍स परीक्षा पास नहीं कर सके थे. रिजल्‍ट देखकर पहले वह निराश हो गए थे.

न्‍होंने कहा, "मैंने 2016 और 2018 के बीच बहुत प्रयास किया लेकिन फिर भी मैं प्रीलिम्स पास नहीं कर सका. शायद इसकी वजह मेरी गलत रणनीति थी और मैं घमंडी हो गया था कि अगर मैं IIT-दिल्ली क्रैक कर सकता हूं और मैं किसी भी परीक्षा को क्रैक कर सकता हूं."

Advertisements