प्रधानाचार्य सीधी भर्ती पर सरकार नरम

प्रधानाचार्य सीधी भर्ती पर सरकार नरम

प्रधानाचार्य के 50 फीसदी रिक्त पदों पर सीधी भर्ती के फैसले पर सरकार ने नरमी के संकेत दिए हैं। षिक्षा विभाग, प्रधानाचार्य एसोसिएशन और शिक्षक संगठनों से सुझाव लेने के बाद एक बार फिर शिक्षकों के बीच जा रहा है। सरकार का विचार है कि पहले प्रमोशन के जरिए सभी पदों को भरने का प्रयास किया जाएगा। उसके बाद भी पद रिक्त रहते हैं तो ही सीधी भर्ती की जाएगी।
शिक्षा मंत्री डॉ.धन सिंह ने विभागीय अफसरों को शिक्षकों से उनकी सभी समस्याओं और कोर्ट केस के संबंध में बात करने के निर्देश दिए हैं। अफसरों को 15 नवंबर तक शिक्षा महानिदेशक को रिपोर्ट देनी है। सभी की रिपोर्ट मिलने के बाद अंतिम निर्णय लिया जाएगा। मालूम हो प्रधानाचार्य भर्ती के लिए सरकार ने संशोधित नियमावली जारी की है। इसके अनुसार 50% रिक्त पद सीधी भर्ती से भरे जाने हैं। शिक्षक इसका विरोध कर रहे हैं। राजकीय शिक्षक संघ के प्रदेश महामंत्री सोहन सिंह माजिला का कहना है कि सरकार को पहले कोशिश करनी चाहिए कि प्रमोषन के जरिए सभी रिक्त पदों को भरें। उसके बाद ही भर्ती आदि पर विचार किया जाए।

Advertisements