कर्मचारियों को प्रमोशन में मिलेगी शिथिलता

कर्मचारियों को प्रमोशन  में मिलेगी शिथिलता

 सरकारी विभागों में खाली पड़े पदों पर सरकार कर्मचारियों को प्रमोशन में शिथिलता देने जा रही है। उत्तराखण्ड अधिकारी कर्मचारी शिक्षक समन्वय समिति के सचिव संयोजक पूर्णानंद नौटियाल का दावा है कि मुख्यमंत्री ने प्रमोशन में शिथिलता के संकेत दिए हैं, हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई।
उत्तराखण्ड में पहले कर्मचारियों को पदोन्नति में शिथिलता का लाभ मिलता था। बाद के वर्शो में शासन ने इस व्यवस्था पर रोक लगा दी थी। इसके विरोध में कर्मचारी संगठन हाईकोर्ट गए। हाइकोर्ट ने पदोन्नति में शिथिलता का लाभ देने के आदेश किए। हालांकि लंबे समय तक पहले शासन ने इन आदेशो को लागू नहीं किया। बाद मेे दबाव बढ़ने पर आदेश लागू किए लेकिन शर्त ये जोड़ दी कि ये लाभ सिर्फ 30 जुलाई 2022 तक ही मिलेगा। 30 जुलाई के बाद ये लाभ फिर बंद कर दिया गया।
इस अवधि में कर्मचारियों को पदोन्नति में शिथिलता को पूरे सेवा काल में वनटाइम राहत नहीं मिल पाई। विभिन्न विभागों में दस हजार प्रमोशन होने हैं। शनिवार को सीएम से कर्मचारियों की बैठक हुई थी।

 

Advertisements