आयुर्वेद विश्वविद्यालय अब नये विवादों में घिरा

देहरादून।

नियुक्तियों को लेकर घिरे उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय में एक नया विवाद सामने आया है। कुछ कर्मिकों ने विवि पर उन्हें जबरन निष्कासित करने का आरोप लगाया है। धन्वंतरी वैद्यशाला के माध्यम से रखे गए इन कर्मियों ने शैक्षिक प्रमाण पत्र भी जब्त करने का आरोप लगाया है। कर्मियों ने पुनर्नियुक्ति प्रदान करने की मांग को लेकर कुलपति को पत्र भेजा है। अपनी मांग पूरी न होने पर 13 अक्टूबर से विवि परिसर में धरना देने की चेतावनी दी। दरअसल विश्वविद्यालय में स्थित धन्वंतरी वैधशाला में कई कर्मचारी वर्ष 2016 से विभिन्न पदों पर अपनी सेवाएं दे रहे थे। मई 2018 में उन्हें अचानक बिना कारण बाहर कर दिया गया। इतना ही नहीं कर्मियों के विवि प्रवेश पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया। जिसके बाद से व विवि में पुनर्नियुक्ति की मांग कर रहे हैं।

Advertisements