वैक्‍सीन: टॉप अमेरिकी एक्सपर्ट भारत पर फिदा

कोरोना वायरस से निपटने के लिए वैक्‍सीन ही इकलौता उपाय नजर आ रहा है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि भारत में हर्ड इम्‍युनिटी की स्थिति 'बहुत दूर' है और उसके लिए वैक्‍सीन के लिए जरिए इम्‍यूनाइजेशन करना होगा। हेल्‍थ मिनिस्‍ट्री के अधिकारी राजेश भूषण ने कहा, "भारत जैसे बड़े देश के लिए हर्ड इम्‍युनिटी कोई रणनीतिक विकल्‍प नहीं हो सकती... उसकी कीमत बहुत चुकानी पड़ेगी और वह सिर्फ वैक्‍सीनेशन से इम्‍यूनाइजेशन के जरिए ही हो सकती है।" उन्‍होंने कहा कि भारत सरकार ने किसी वैक्‍सीन निर्माता कंपनी के साथ कोई डील नहीं की है लेकिन अब उनसे बातचीत हो रही है। दुनियाभर में करीब 25 वैक्‍सीन ह्यूमन ट्रायल के दौर में हैं जिनमें से दो भारत की हैं। कोविड-19 वैक्‍सीन हासिल करने के लिए भारत अब मल्‍टीलैटरल मेकेनिज्‍म की तरफ देख रहा है। स्‍वदेशी वैक्‍सीन के क्लिनियल ट्रायल जारी हैं। हालांकि भारत ने अभी तक किसी लीडिंग वैक्‍सीन डेवलपर से सीधी बातचीत नहीं है। कोविड-19 वैक्‍सीन पर लेटेस्‍ट अपडेट क्‍या है, आइए जानते हैं।

News Source: Nav Bharat Times 31 Jul, 2020 11:42 AM

Advertisements