टिप्स: डीमैट अकाउंट को फर्जीवाड़े से कैसे बचाएं

वैसे तो आज धोखाधड़ी की गुंजाइश बहुत कम रह गई है, खासकर सेबी ने जब से पावर ऑफ अटॉर्नी अग्रीमेंट्स के लिए ड्राफ्टिंग के मानक तय किए हैं। बावजूद इसके कस्टमर को डीमैट अकाउंट से ट्रांसफर, ब्रोकर से मिले स्टेटमेंट्स आदि को लेकर हमेशा चौकन्ना रहना चाहिए।

News Source: Nav Bharat Times 13 Mar, 2019 11:39 AM

Advertisements