उत्तराखंड में 9 महीने बाद खुले उच्च शिक्षण संस्थान, छात्रों की उपस्थिति रही बेहद कम

उत्तराखंड में 9 महीने बाद खुले उच्च शिक्षण संस्थान, छात्रों की उपस्थिति रही बेहद कम

उत्तराखंड में पिछले नौ माह से कोविड-19 (COVID-19) के कारण बंद उच्च शिक्षण संस्थान मंगलवार से खुल गए. हालांकि, अधिकांश संस्थानों में पहले दिन छात्र-छात्राओं की उपस्थिति बहुत कम रही. सरकार ने हाल ही में स्नातक और परास्नातक के प्रथम और अंतिम सेमेस्टर के प्रायोगिक विषयों वाली कक्षाओं को कोविड दिशानिर्देशों के साथ खोलने का फैसला किया था.

विभिन्न विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में प्रबंधन ने कक्षाओं को सेनेटाइज करवाकर पूरी तैयारी की थी, लेकिन अधिकांश संस्थानों में छात्रों की उपस्थिति बहुत कम रही. इस बीच, प्रदेश के सबसे बड़े कॉलेज डीएवी पीजी कॉलेज में काफी संख्या में छात्र पहुंचे. डीएवी कॉलेज के प्राचार्य अजय सक्सेना ने बताया कि लंबे समय बाद कॉलेज पहुंचे छात्रों ने बहुत उत्साह से अपनी कक्षाओं में पढ़ाई की.
उन्होंने बताया कि अभी प्रायोगिक विषयों जैसे विज्ञान संकाय में भौतिकी, रसायन शास्त्र, जंतु विज्ञान और वनस्पति विज्ञान तथा कला संकाय में भूगोल, संगीत आदि की कक्षाएं शुरू की गयी हैं. उन्होंने कहा कि कॉलेज को सेनेटाइज कराने के अलावा सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य करने जैसे सभी कोविड संबंधी दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन किया गया.

 

Advertisements