निजी स्कूलों को रास नही आ रहा आरटीई एक्ट

निजी स्कूलों को रास नही आ रहा आरटीई एक्ट

निजी स्कूलों की फीस निर्धारित करने के लिए प्रस्तावित आरटीई एक्ट का जहां अभिभावक समर्थन कर रहे हैं। वहीं स्कूल प्रशासन इसके विरोध में उतर आए हैं। स्कूलों का कहना है कि इस एक्ट के लागू होते ही उनके और बच्चों के सामने समस्या खड़ी हो जाएगी। स्कूलों की माने तो विभिन्न स्कूलों में अलग- अलग फीस ली जाती है। ऐसे में अभिभावक अपने अनुसार बच्चों का दाखिला सम्बंधित स्कूलों कर सकते हैं। सरकार क...

अगर आप भी बैक पेपर देना चाहते है तो 30 सितम्बर तक करें आवेदन

अगर आप भी बैक पेपर देना चाहते है तो 30 सितम्बर तक करें आवेदन

हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों व संस्थानों में अध्ययनरत ऐसे छात्र-छात्राएं जो बैक पेपर देना चाहते हैं वे बैक पेपर परीक्षा के लिए आवेदन पत्र अपने संस्थानों में 30 सितंबर 2017 तक जमा कर सकते हैं। विवि के कुलसचिव ने संबद्ध सभी कॉलेजों और संस्थानों को निर्देशित किया कि बैक पेपर देने के इच्छुक छात्र परीक्षा फार्म व शुल्क अपने परिसर में ही जमा करवाएं। निर्धार...

शिक्षक संगठनों ने की विभागीय नीति बनाने के प्रस्ताव को अस्वीकार

शिक्षक संगठनों ने की विभागीय नीति बनाने के प्रस्ताव को अस्वीकार

देहरादून : उत्तराखंड के शिक्षक संगठनों ने राज्य सरकार के तबादला कानून की जगह विभागीय नीति बनाने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। विभागीय उच्चस्तरीय समिति के साथ बैठक में उन्होंने स्थानांतरण एक्ट की पुरजोर वकालत की। शिक्षक नेताओं ने दो टूक कहा कि स्थानांतरण नियमावली के वह कतई पक्ष में नहीं हैं व सिर्फ और सिर्फ एक्ट लाकर ही शिक्षा व्यवस्था सुधारी जा सकती है। उन्होंने कोटीकरण संशो...

यूएपीएमटी-एआइएपीजीईटी की काउंसिलिंग की डेट बदलाव

यूएपीएमटी-एआइएपीजीईटी की काउंसिलिंग की डेट बदलाव

उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय यूएपीएमटी-एआइएपीजीईटी की काउंसिलिंग पर बैकफुट पर आ गया है। विवि ने काउंसिलिंग की तिथियों में बदलाव कर दिया है। कॉलेजों की संबद्धता को लेकर उठ रहे सवालों को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। अब यूजी पाठ्यक्रमों की सीटों का आवंटन नौ व पीजी सीटों का आवंटन 10 अक्टूबर को होगा। उत्तराखंड आयुष प्री मेडिकल टेस्ट यूएपीएमटी 2017 परीक्षा को पास करने केबाद अब प...

1500 शिक्षकों के प्रमाण पत्रों की जांच शुरू

1500 शिक्षकों के प्रमाण पत्रों की जांच शुरू

देहरादून: शासकीय व अशासकीय स्कूलों में वर्ष 2014 से 2016 के बीच भर्ती हुए 1500 शिक्षकों के प्रमाण पत्र एसआइटी को मिल गए हैं। इन प्रमाण पत्रों की जांच के लिए एसआइटी ने छह टीमें बनाई हैं। विश्वविद्यालयों से डिग्री का सत्यापन होने के बाद फर्जी डिग्री वाले शिक्षकों की पोल खुलेगी। इसे लेकर एसआइटी ने सत्यापन कार्य तेज कर दिया है। प्रदेश में खासकर अशासकीय स्कूलों में बड़ी संख्या में फर्जी डिग्र...

बायोमीट्रिक हाजिरी को लेकर छात्रों ने किया हंगामा

बायोमीट्रिक हाजिरी को लेकर छात्रों ने किया हंगामा

एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विवि के स्वामी रामतीर्थ परिसर बादशाहीथौल में शिक्षकों की बायोमीट्रिक हाजिरी का मामला फिर तूल पकड़ने लगा है। छात्र नेताओं ने प्रशासनिक भवन में तालाबंदी कर छह घंटे तक खुद को कैद कर धरना दिया। हालांकि बाद में आंदोलनकारियों के तेवरों को देखते हुए परिसर निदेशक ने लिखित आश्वासन देकर छात्रों का गुस्सा शांत किया और उन्हें बाहर निकाला। एसआरटी परिसर में शैक्षणि...

Advertisements


Poll

समस्त प्रवेश परीक्षाओं को संयुक्त रूप से केन्द्रीय स्तर पर नीट की तरह आयोजित किया जाना चाहिए?

  • हाॅ
  • नहीं
  • कह नहीं सकते